बच्चों के लिए parents उनके Role model होते हैं।

बच्चों के लिए parents उनके Role model होते हैं।

बच्चों के लिए parents उनके Role model होते हैं।

उनमें आदतें बचपन से ही पड़ जाती हैं, और अगर parents अच्छी आदतें अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में निभाते हैं, तो बच्चों के दिमाग में भी अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता आ जाती है और उनके Role model बन जाते हैं ।

Parents अपने बच्चों के Role model बनाने के लिए कुछ बातें ध्यान रखनी होंगी।

1.शारीरिक स्वास्थ्य: अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में शारीरिक गतिविधियों को प्राथमिकता दे, उनको अपने कार्यक्रम का एक हिस्सा बना दें Parents को चाहिए कि वह खुद भी एक्टिव रहे और कम से कम एक घंटा एक्सरसाइज / exercise में दें।

2. पैदल चलना, जॉगिंग करना और एक्सरसाइज करना यह सब थोड़ा सा बोरिंग हो सकता है। बच्चों के लिए तो अच्छा होगा कि कोई ऐसी गतिविधियां जिसमें बच्चों को अच्छा लगे, उनको करने की कोशिश करें जैसे तैराकी, कोई गेम खेलना, साइकिल चलाना, बोल ड्रिब्बल करना, माउंटेनियरिंग करना इत्यादि।

3. अच्छी parenting के लिए बच्चों को घर की गतिविधियों में लगाना चाहिए जैसे बच्चों को लेकर मार्केट तक जाए, गाड़ी धोनी हो तो उनको साथ में ले जाए, कभी कोई स्पेशल सफाई करनी हो तो उनको भी साथ में डस्टर देकर छोटा सा काम देदे।

4. बच्चों के साथ कुछ समय गार्डन में भी बिता सकते हैं, पौधों को पानी देना, सफाई करना कुछ डेकोरेटिव पीसेज घर में लगाना, अपनी वार्डरोब को ठीक करना इत्यादि।

5. कभी-कभी उनके कुछ फ्रेंड्स के साथ स्पोर्ट्स एक्टिविटी रखें जैसे कि साइकिल चलाना, कोई गेम खेलना, डांस करना या स्केटिंग करना आदि।

6. कभी कभी अपने रिश्तेदारों, पड़ोसियों के साथ भी कोई ग्रुप एक्टिविटी जैसे कि घर के अंदर के गेम खेलना है, डांस करना इत्यादि को भी अपने जीवन में शामिल करें।

7. कभी-कभी स्पोर्ट्स क्लब या वॉटर पार्क भी लेकर जाए ताकि वह अलग अलग तरह के गेम से रूबरू हो पाए।

8.बच्चों को स्कूल की एक्टिविटीज और खेलों में शामिल होने का प्रोत्साहन दे

9. टीवी देखने का और कंप्यूटर देखने का टाइम फिक्स कर दे और बच्चों को बहुत ज्यादा इन चीजों को देखने ना दें बल्कि उनके बेडरूम से टीवी या कंप्यूटर को हटा दें।

10. कभी कभी खराब मौसम के कारण या मां बाप का बिजी शेड्यूल हो, थक गए हो या कोई हेल्थ रिलेटेड प्रॉब्लम हो, आप खुद उस खेल में हिस्सा नहीं ले सकते।

ऐसे समय पर कुछ अलग तरह के ऑप्शन पर ध्यान दें जैसे कि कुछ खेलने के इक्विपमेंट्स घर पर रख ले या कोई स्पोर्ट्स क्लब ज्वाइन करा दें जिसमें बच्चे को जाकर हिस्सा ले सकें

 

उपरोक्त विधियों के द्वारा बच्चों के अंदर उनके स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता को बढ़ाया जा सकता है।

और parents उनके Role model बन सकते हैं।

Leave a Comment