मैं सुंदर या आकर्षक नहीं हूं – इस भावना को कैसे दूर करूं?

मैं सुंदर या आकर्षक नहीं हूं – इस भावना को कैसे दूर करूं?

मैं सुंदर या आकर्षक नहीं हूं – इस भावना को कैसे दूर करूं?

वर्तमान समय में हर व्यक्ति आकर्षक दिखना चाहता है या चाहती है ।

और हम सब में यह भावना कि हम आकर्षक या सुंदर नहीं दिखते, जरूर आती है ।

यह भावना तब आती है जब कोई व्यक्ति अपने आप से कम प्रेम की भावना रखें और अपने आप को सबसे कम योग्य समझे।

और इसे समझने के लिए आत्म ज्ञान होना जरूरी है जो जीवन के मूल्यों को दिखाता है ।

 

इस भावना को दूर रखने के लिए इन युक्तियों का पालन करें-     

    

1. अपनी प्रतिभाओं की सराहना करें

इस परिस्थिति से निपटने के लिए आपको अपने अंदर के कौशल और क्षमताओं को पहचानना चाहिए ।

आप एक अच्छे कुक या इंजीनियर या फिर खिलाड़ी हो सकते हैं।

आपने कभी अपने अंदर के सारे कौशल की सराहना की है?

क्या आपने कभी यह जानने की कोशिश की है कि आप एक बुद्धिमान व्यक्ति हैं और आप बहुत से काम करने में श्रेष्ठ हैं?

इसलिए वह सभी कार्यों के लिए खुद की सराहना करें जिनको आपने महत्व नहीं दिए है ।

 

2.प्रकृति के उपहारों की सराहना करें

प्रकृति ने जो आपको और सभी को जो उपहार दिए हैं उनकी सराहना करें ।

उपहार मतलब पेड़, ऑक्सीजन, मिट्टी, पानी, बारिश और बहुत कुछ।

प्रकृति ने कभी भी किसी के बीच भेदभाव नहीं किया है।

उसने हम सबको बराबर माना है।

बहुत सी चीजें प्रकृति ने हमें दी है जिसके लिए हमें उसका धन्यवाद करना चाहिए।

 

3.सकारात्मक और रचनात्मक कार्य करें ।

बाहरी सुंदरता भगवान का वरदान होता है पर कड़ी मेहनत और कौशल से कुछ महान हासिल करना सराहनीय है।

कुछ उपयोगी कार्य करें साथ ही अपने विचारों को कमजोर ना होने दे और अपने जीवन को सार्थक बनाएं ।

सकारात्मक और रचनात्मक कार्य करने से आकर्षक और सुंदर ना होने की भावना सबसे अधिक दूर होती है।

 

4. उन्हें माफ कीजिए  जो प का मजाक उड़ाते हैं।

उन्हें माफ कीजिए जो आप का मजाक उड़ाते हैं क्योंकि वह आपको वह बनने के लिए प्रेरित करते हैं जो आप बनने के लायक हैं।

कभी-कभी अंदर छिपी हुई कला और क्षमता को नहीं पहचान पाते हैं पर जब कोई हमें आघात पहुंचाता है तो हमें अपनी योग्यताओं की अनुभूति होती है ।

इन योग्यताओं को हम तराशते हैं और अपने आप के बेहतर स्वरूप को पाते हैं ।

इसलिए अनजाने में, जो लोग आप का मजाक उड़ाते हैं, दरअसल वह आप को सफल बनाने में मदद करते हैं ।

वह लोग जो आप का मजाक उड़ाते हैं, वह कम आत्म सम्मान के व्यक्ति होते हैं ।

ऐसे मजाक उड़ाने से उनको कुछ समय के लिए खुशी मिल जाती है, और अपनी छवि थोड़े समय के लिए अच्छी कर लेते हैं ।

ऐसे लोगों के पास आत्मज्ञान और जीवन के मूल्यों की कमी होती है ।

 

5. अपने जीवन को खुलकर जिए क्योंकि आप इसके हकदार हैं।

यह आपका जीवन है और इससे आपके अलावा कोई और नहीं जी सकता।

खुश रहना और दुखी रहना यह केवल आपके हाथों में है।

और यह भावना कि मैं सुंदर और आकर्षक नहीं हूं इसे सिर्फ आप ही दूर कर सकते हैं।

 

अगर आपको यह लेख पसंद आया तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

 

 

Leave a Comment